How to stay motivation always in hindi ||

MOTIVATION ना होने का कारन

1. जरुरत पूरी हो जाना(Motivated Always)

अब सवाल उठता है what is मोटिवेशन अगर आप इसको ध्यान से देखोगे तो इसी में इसका answer छिपा है ।

हमारे पास कोई एक मोटिव होना चाहिए जिसके कारण हमें मोटिवेशन मिले।

जैसे कि :- अगर कोई एक बंदा भूखा है उसको मैं कहूं कि वह मोटिवेशनल वीडियो या फिर बातें सुनकर अपना पेट भर ले तो क्या वह सुनेगा जी बिल्कुल नहीं उसकी जरूरत भूख है तो उसका मोटिव क्या है भूख उसको अपने

motive के कारण मोटिवेशन आएगा But यहां पर प्रॉब्लम क्या है जैसे ही इसका motive पूरा होगा वैसे ही इसका मोटिवेशन खत्म हो जाएगा but यहां पर प्रॉब्लम यह है कि हम सब की बेसिक नीड कंप्लीट हो चुकी हैं जैसे कि हम सबको दिन भर में 3 बार खाना अवश्य मिलता है

अगर हमें दिन भर में आधा पेट खाना मिले तो हमारा motive 3 टाइम खाने की जरुरत पूरी करने की होगी और इसके कारण हमारा मोटिवेशन भी आ जाएगा मगर यहां पर हमें जब भरपेट खाना मिलने लगेगा तो हमारा मोटिवेशन कुछ दिनों बाद जरूर टूट जाएगा।

2 .डिजायर की जगह wish होना (Motivated Always)

और एक मोटिवेशन होता है desire को लेकर पर हम सब में से 99% को डिजायर नहीं विष होती है कि अगर हां मुझे मिल जाए तो हम ले लेंगे ,पर वह डिजार को पूरा करने के लिए दर्द नहीं उठाना चाहते हैं हम सोचते हैं कि नहीं नहीं दर्द नहीं बस हमें मिल जाए बिना मेहनत किए |बस मैं आपको बता दूं कि यह Desire नहीं wish है।

। बहुत सारों के केस में तो ऐसा भी होता है कि उनके घर वालों के पास बहुत सारा पैसा होता है तो तो उनकी बेसिक नीड पूरी हो जाती है तो उनके पास मोटिवेशन कहां से आएगा।

हमें मोटिवेशन लाने के लिए बहुत बड़ा डिजायर चाहिए जिसको पाने के लिए हम दिन रात एक कर सकें तो इन्ही करणो के कारन हमारे पास मोटिवेशन ही नहीं है ।

3.MOTIVATION कैसे लाऐ (Motivated Always) :

* अपने काम के अंदर मीनिंग ढूंढने की कोशिश करें जो आप काम कर रहे हो उसमें मीनिंग ढूंढने की कोशिश करें ।

जैसे कि:- आप टीचिंग का जॉब कर रहे है तो वहां पर मीनिंग फुल काम हो गया ना बहुत लोगों के केस में प्रॉब्लम यह है कि पैसा बहुत है पर मीनिंग less है लाइफ।

आपकेपास मीनिंग तो है लाइफ में आप चाहो तो उन बच्चों को प्यार दे सकते हो और वह बदले में आपको प्यार देंगे तो सेटिस्फेक्शन आ गई ।।

“Satisfaction is priceless” …….

  • अगर सेटिस्फेक्शन बिताना दुकान पर तो आप सोचने सकते हो कितने के बिकता पैसा देने वालों की कमी नहीं है इस दुनिया में ।
  • अगर आप सोचो किसी के पास पैसा है सेटिस्फेक्शन नहीं है वह कितना रुपए खर्च कर देगा उसकी कोई लिमिट नहीं है अगर मान लो कोई शोरूम है उसमें सेटिस्फेक्शन बिकता है|
  • और वह जाकर का है भैया 10 दिन की सेटिस्फेक्शन देना लगाओ अपना दिमाग कितने का बिक सकता है करोड़ों खरबों का बिक सकता है तो क्या मिला आपको मीनिंग से सेटिस्फेक्शन मिल गया |

“ this is another way of looking life…”

4. समय निकालना :-

क और मान लो काम आपका ऐसा है जो इतना गया गुजरा है की उसमें मीनिंग क्या धेरे का मीनिंग नहीं है |

एक प्रोडक्ट है गंदा सा उसको ले जाकर बाजार में बेचना है जो आपको पता है बहुत ही खराब प्रोडक्ट है लेकिन क्लाइंट को ऐसे दिखाना है ऐसे कितना अच्छा हो तभी बिकेगा आप का प्रोडक्ट ,तो आप क्या करोगे मीनिंग लेस हो गई आपकी लाइफ । तो इस सिचुएशन में आप अपने spare time का इस्तेमाल करें ।

जैसे की :- सेटरडे , संडे इन दिन तो आपकी छुट्टी रहेगी

उसके अलावा आप सुबह जल्दी उठ सकते हो वहां टाइम मिल सकता है रात को टाइम मिल सकता है आप कुछ एडजस्टमेंट कर सकते हो अपनी लाइफ

जिससे आपको कुछ एक्स्ट्रा टाइम मिले और आप उसमें कुछ मीनिंग फुल काम कर पाए। आपके लिए कुछ भी मीनिंगफुल काम हो सकता है |

जैसे कि:-you love singing, dancing, playing a sport etc. कुछ भी हो सकता है। इनमें से जैसे मान लो कि आपको सपोर्ट खेलना ज्यादा अच्छा लगता है तो आप इसको सुबह daily खेला करो।

तो इतना सा भी एक्टिविटी करके आपको मानना पूरे दिन मीनिंग लेस काम करना है और करना ही पड़ेगा आप फंसे पड़े हो थ्योरी टेककली तो निकल सकते हो पर प्रैक्टिकली आप निकल नहीं पा रहे हैं कुछ सालों से तो आप क्या करो कुछ मीनिंगfull activity ऐड कर दो अपने लाइफ में ।

सुबह 1 घंटे के लिए मान लो या फिर वीकेंड में एक दिन आप कुछ भी कर सकते हो ”as simple as possible”

आपकोउस एक्टिविटी को कर कर अच्छा लगने लग जाए तो आपको क्या होगा ठीक है कोई बात नहीं मैं अपना एक हफ्ता उस मीनिंग less काम को एक हफ्ता तक करने के बाद मुझे वह एक्टिविटी करने से सुकून मिलेगा जिसके लिए मैं कुछ भी कर सकता हूं।

this meaningless is biggest cause of loneliness”… जिसको हम अकेलापन कहते हैं वह मीनिंग लेसनेस का ही दूसरा नाम है। क्योंकि हम इतने सेल्फ सेंट्रिक हैं

कि हम केवल अपने बारे में सोचते हैं जैसे ही उस लाइफ में थोड़ा सा मीनिंग ऐड होता है हमारे लाइफ एकदम बढ़िया हो जाता है।

जैसे कि सुबह उठकर आपको कुछ खेलना है, स्पोर्ट कंपलेक्स में जाना है तो एड्रेस यह तो है ना कि पूरे दिन का को टॉर्चर हुआ।

but there is something to look up to”कल मुझे एक घंटा से मिलेगा जो मुझसे कोई नहीं ले सकता।

जहां पर मैं कोई एंप्लॉय नहीं हूं मेरे को किसी की सुननी नहीं है जहां पर मैं खुलकर भी खेलूंगा बस बात खत्म।

मीनिंग आ गया आपके लाइफ में यह किसके लिए मीनिंग है आपके लिए मीनिंग है।।

5.how to stay motivated all time by inspiration 

यह फाइनल आंसर है बस दो लाइन का आपको क्या करना है

अपने लाइफ में इंस्पिरेशन लाना है क्योंकि इंस्पिरेशन ही आपके लाइफ में हमेशा के लिए रह सकता है

मोटिवेशन का क्या है आज आपका इंटरेस्ट खेलने में है तो कल गाने में है तो कल नाचने में है पर जब इंस्पिरेशन होगा आपका कोई तो आप एक ही चीज में फोकस कर पाओगे और भी अच्छे से जिंदगी भर के लिए जब तक आप उसमें सक्सेसफुल नहीं बन जाते हो क्योंकि इंस्पिरेशन अंदर की आग होती है अंदर की।।।।।

जी दोस्तों धन्यवाद अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो शेयर करे।

😛

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *